किसान की बदहाली दूर करने के बजाए भाजपा सरकार बड़ी-बड़ी घोषणाएं करने में व्यस्तः अखिलेश

Share and Spread the love

IMAGE CREDIT-SOCIAL MEDIAसमाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि देश के किसानों की हालत दिन प्रतिदिन बदतर होती जा रही है और भाजपा सरकार बड़े औद्योगिक घरानों का हित साधने में जुटी हुई है. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार किसान को किसान नहीं रहने देने पर उतारू है.
अखिलेश यादव ने तंज कसते हुए कहा कि भाजपा सरकार का किसानों के नाम पर बड़ी-बड़ी घोषणाएं करने में कोई मुकाबला नहीं है. अभी तक 20 लाख करोड़ की गिनती भी नहीं कर पाए एक और किश्त एक लाख करोड़ की किसानों को भेजने की घोषणा कर सबको चकाचौंध कर दिया है. गरीब किसान इतनी भारी रकम कहां रख पाएगा.
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी कृषि ‘इन्फ्रास्ट्रक्चर फण्ड लांच करने की घोषणा करते हैं पर हालत ये है कि किसानों को यूरिया और बीज तक तो समय से मिल नहीं पा रहा है. यह फण्ड भी किसान समूहों को मिलेगा. मंशा साफ है भाजपा खेती को कारपोरेट क्षेत्र में विलय करने में लग गई है.

अखिलेश ने कहा कि सच तो यह है कि भाजपा सरकार बहुराष्ट्रीय और कारपोरेट घरानों के हितों की पैरोकारी में खेती, गांव, किसान को उनका बंधक बनाने की योजना लागू करना चाहते है. उनके इरादे विरोधाभासी है जिसमें सिर्फ धोखा ही धोखा है.
सपा मुखिया ने कहा कि भाजपा सरकार ने वादा किया था कि वह सन् 2022 तक किसानों की आय दो गुना कर देगी, न्यूनतम समर्थन मूल्य दिलाएगी और किसान का पूरा कर्ज माफ करेगी लेकिन हकीकत में तो भाजपा ने किसानों के साथ सिर्फ गोलमाल ही किया है. किसानों को राहत देने के बजाय डीजल के दाम बढ़ा दिए.
The post किसान की बदहाली दूर करने के बजाए भाजपा सरकार बड़ी-बड़ी घोषणाएं करने में व्यस्तः अखिलेश appeared first on AKHBAAR TIMES.