जदयू ने चिराग पासवान को बताया कालिदास, कहा- जिस डाल पर बैठते हैं, उसी को काटते

Share and Spread the love

बिहार में एनडीए के सहयोगी दलों के बीच इन दिनों तीखी बयानबाजी हो रही है. लोकजनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान पिछले कुछ समय से लगातार नीतीश सरकार पर निशाना साधते आ रहे हैं. अब जदयू नेता भी पलटवार कर रहे हैं. जदयू संसदीय दल के नेता राजीव रंजन ने चिराग पासवान पर निशाना साधा है.
चिराग के बयानों को लेकर किए गए सवाल पर राजीव रंजन उर्फ़ ललन सिंह ने कहा कि चिराग क्या कहते हैं, ये वही जानें. वे कालीदास हैं. कालिदास इस बात के लिए प्रसिद्ध हैं कि जिस डाल पर बैठे थे उसी को काटने लगे.
ललन सिंह ने कहा कि जहां तक कोरोना का प्रश्न है तो इस मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बहुत ही संवेदनशील हैं और आज की तारीख में बिहार में प्रतिदिन लगभग 83 हजार टेस्ट हो रहा है, जिसे अगले 3 दिनों में 1 लाख करने का लक्ष्य है.

उन्होंने बताया कि कल 83 हजार में 3 हजार 771 पॉजिटिव पाए जो कि जांच का 5 प्रतिशत से भी कम है और बिहार का रिकवरी रेट भी लगभग 66 प्रतिशत है.
दरअसल, चिराग पासवान का कहना है कि बिहार सरकार कोरोना संकट और बाढ़ से निपटने में फेल रही रही है. पासवान ने कहा कि बिहार में बाढ़ को लेकर बिहारवासी हर साल ये स्थिति देखते हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 15 साल से सत्ता में है. उन्हें अच्छा ख़ासा अनुभव है. फिर भी क्या बदलाव आया? चिराग बिहार में कोरोना संकट के बीच विधानसभा चुनाव कराने का भी विरोध कर रहे हैं.
The post जदयू ने चिराग पासवान को बताया कालिदास, कहा- जिस डाल पर बैठते हैं, उसी को काटते appeared first on AKHBAAR TIMES.