बीजेपी नेताओं के भड़काऊ भाषणों पर छूट देने के मामले में फेसबुक की ओर से आया ये बड़ा बयान

Share and Spread the love

अमेरिकी अखबार वाल स्ट्रीट जर्नल में फेसबुक और भाजपा को लेकर छपी खबर के बाद भारत में सियासी तूफान आ गया है. कांग्रेस और भाजपा एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं. अमेरिकी अखबर के खुलासे के बाद फेसबुक की ओर से भी पूरे मामले में सफाई दी है.
फेसबुक की ओर जारी बयान में कहा गया है कि हमारी पॉलिसी कोई पार्टी या दल नहीं देखती. हमारी पॉलिसी सभी पर समान रूप सें लागू होती है. कंपनी की ओर से कहा गया है कि हम हेट स्पीच और हिंसक कंटेंट पर रोक लगाते हैं. हमें पता है कि हमें अभी बहुत कुछ करना है लेकिन हम अपनी नीतियों लागू करने के नियमित आकलन को लेकर प्रतिबद्ध हैं ताकि निष्पक्षता और सटीकता बनी रहे.

बता दें कि कल अमेरिकी अखबार वाल स्ट्रीट जर्नल ने ये अपनी रिपोर्ट में ये खुलासा किया है कि फेसबुक भारत में सत्ताधारी पार्टी बीजेपी के नेताओं और कार्यकर्ताओं की हेटस्पीच और आपत्तिजनक सामग्री पर एक्शन लेने में कोताही बरतता है.
इस रिपोर्ट में एक फेसबुक अधिकारी के हवाले से ये कहा गया कि सत्ताधारी दल के कार्यकर्ताओं को दंडित करने से भारत में कंपनी के कारोबार पर असर पड़ सकता है. अमेरिकी अखबार के लेख में ये भी कहा गया है कि फेसबुक ने भाजपा को लेकर व्यापक पैमाने पर तरजीह दी है.
The post बीजेपी नेताओं के भड़काऊ भाषणों पर छूट देने के मामले में फेसबुक की ओर से आया ये बड़ा बयान appeared first on AKHBAAR TIMES.