बलिया बलिदान दिवस पर बापू की मूर्ति पर पुष्प अर्पित करने पहुंचे स्वामी अभिषेक और रोहित सिंह

Share and Spread the love

19 अगस्त का दिन उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के लिए बहुत ही गौरवशाली दिन है. सन् 1942 में आज के दि नही बलिया के सैकड़ों क्रांतिकारियों ने अंग्रेजी हुकूमत से लोहा लेते हुए जिला कारागार का दरवाजा खोलकर अपने साथियों को आजाद कराया था. बलिया बलिदान दिवस के दिन बलिया जिले में स्थानीय अवकाश भी होता है.
बलिया बलिदान दिवस के अवसर पर युवा चेतना के संरक्षक स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी और युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह ने बलिया चौक स्थित शहीद पार्क में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यापर्ण किया.
इस दौरान स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी ने कहा कि बलिया का स्वर्णिम इतिहास है, देश जब-जब संकट में आया है तबतब बलिया ने दिशा दिखाई है. स्वामी अभिषेक ने कहा कि बलिया बलिदान दिवस पर सभी स्वतंत्रता सेनानी एवं क्रांतिकारियों को नमन करते हैं.
उन्होंने कहा कि भाजपा देश के साथ अन्याय कर रही है. धर्म आस्था का विषय परंतु भाजपा राजनीति कर रही है. स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी ने कहा कि देश की तरक़्क़ी हेतु युवाओं को गोलबंद होना होगा. उन्होंने कहा कि जनता को युवा चेतना का साथ देना चाहिए.

युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह ने कहा कि भारत सर्व धर्म संभाव का देश है परंतु मोदी-योगी सरकार धार्मिक उन्माद फैलाकर जनता को ठग रही है. उन्होंने कहा कि युवा चेतना का लक्ष्य देश की अखंडता को बरकरार रखना है.
रोहित सिंह ने कहा कि बलिया देश में सबसे पहले आज़ाद हुआ था, चित्तु पांडेय जी इसके नायक थे. चित्तु पांडेय, महानंद मिश्रा, भोला ठाकुर सरीखे महान सपूतों के योगदान को बलिया नहीं भूल सकता है.
उन्होंने कहा कि आज नौजवान बेरोज़गार है और सरकार सोई हुई है. उत्तर प्रदेश में जंगल राज स्थापित हो गया है, युवा चेतना इसे उखाड़ फेंकेगी. रोहित सिंह ने कहा कि बलिया बलिदान दिवस पर हम महापरिवर्तन का संकल्प लेते हैं.
इस अवसर पर कृष्ण कुमार ठाकुर, अजय राय मुन्ना, बैजू राय, अजय ओझा, सैफ़ नवाज, राहुल राय, आलोक राय, आदित्य चौबे, संजय मिश्रा, शिवम राय, निखिल यादव, नीलकांत वर्मा, रामप्रकाश राय आदि उपस्थित थे.
The post बलिया बलिदान दिवस पर बापू की मूर्ति पर पुष्प अर्पित करने पहुंचे स्वामी अभिषेक और रोहित सिंह appeared first on AKHBAAR TIMES.