कोविड-19 से जान गंवाने वाले चेतन चौहान के साथ अस्पताल में हुआ कैसा बर्ताव? इस नेता ने बताई आंखो देखी

Share and Spread the love

कभी भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज क्रिकेटर रहें और वर्तमान में राजनीति में धाक जमाने वाले योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान का हाल ही में कोरोना संक्रमण से निधन हो गया. शनिवार को विधानसभा के पटल पर सपा नेता सूनील सिंह साजन ने उनसे जुड़ा हुए एक किस्सा सबके सामने रखा.
उन्होंने इस दौरान बताया कि कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वाले चेतन चौहान के साथ अस्पताल में अच्छा बर्ताव नहीं किया गया. इस दौरान सुनील साजन के द्वारा अपने कोरोना इलाज के अनुभव को भी बयां किया गया जिसमें अस्पताल स्टाफ द्वारा कई की बातों को उजागर किया.
एमएलसी सुनील सिंह साजन ने इस दौरान भरे सदन में जो बातें बताई उसको सुनकर सभी आश्चर्यचकित थे. उन्होंने कहा कि पीजीआई स्टाफ जैसे ही गेट से कोरोना वार्ड में प्रवेश करता है तो वे गेट से ही पूछते हैं कि चेतन कौन हैं?
मंत्री चेतन चौहान बड़े ही सरल स्वभाव के थे, उन्होंने हाथ खड़ा कर इशारे में बताया कि वो ही चेतन हैं.टीम इस दौरान उनके पास आई और पूछा कि चेतन आपको कोरोना कब हुआ.
IMAGE CREDIT-SOCIAL MEDIAइसके बाद उन्होंने कहा कि इसी बीच स्टाफ के दूसरे व्यक्ति ने पूछा कि चेतन तुम क्या करते हो? अस्पताल स्टाफ के सवाल का जवाब देते हुए चेतन चौहान ने कहा कि मैं कैबिनेट मंत्री हूं. इस पर एक स्टाफ ने कहां के? उन्होंने फिर से उत्तर दिया, यूपी के. सुनील सिंह साजन ने कहा कि मैं इस दौरान मैं सोच में पड़ गया कि ये लोग आखिर कैसे एक मंत्री के साथ बद्दतमीजी के साथ बात कर सकते हैं.
इसके बाद चेतन चौहान ने कहा कि वे यूपी के कैबिनेट मंत्री हैं बकौल सुनील अब हमें लगा कि अब तो ये लोग सही से बात करेंगे लेकिन इसके बाद पीजीआई के स्टाफ ने कहा कि चेतन तुम्हारे घर में और कौन संक्रमित है. इस बात को सुनकर मुझे गुस्सा आया, दुख भी हुआ और सरकार पर भी गुस्सा आया.
इस दौरान मैं स्टाफ के बर्ताव को देखकर गुस्से को कंट्रोल नहीं कर पाया तो मैंने कहा कि क्या आप जानते हैं ये कौन हैं? मैंने कहा कि ये वो चेतन हैं जो देश के लिए क्रिकेट खेलते थे, फिर डाक्टर ने कहा अच्छा ये वो चेतन हैं इतना कहते हुए पूरा स्टाफ बाहर चला गया.
सुनील सिंह साजन ने कहा कि चेतन मेरे साथ मेरे बगल में दो दिनों तक रहें वो जो घुटन महसूस कर रहे थे वो कोई नहीं कर सकता. उन्होंने कहा कि उनकी जान कोरोना से बल्कि अव्यवस्था के कारण गई है.
सुनील सिंह साजन ने आगे बढ़ते हुए कहा कि क्या यूपी में केवल सीएम योगी का ही सम्मान होगा, अगर किसी मंत्री को कोरोना हो जाए तो उनके साथ इस तरह का व्यवहार किया जाएगा. जो आप सोच भी नहीं सकते. कहा कि हम तो भगवान से प्रार्थना करते हैं कि किसी को भी कोरोना ना हो.
The post कोविड-19 से जान गंवाने वाले चेतन चौहान के साथ अस्पताल में हुआ कैसा बर्ताव? इस नेता ने बताई आंखो देखी appeared first on AKHBAAR TIMES.