सीएम के नमूना कहने पर संजय सिंह के समर्थन में आए अखिलेश यादव, संसद से की ये अपील

Share and Spread the love

उत्तर प्रदेश विधानसभा में मानसून सत्र के दौरान शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह का नाम लिए बगैर ही उन्हें नमूना करार दिया. सीएम योगी के इस बयान की पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने निंदा की है. उन्होंने सांसद के लिए इस तरह के बयान को संसद की अवमानना भी बताया.
सीएम योगी ने कहा था कि हमने यूपी के लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए महत्वपूर्ण कार्य किया है. ऐसे में दिल्ली का एक नमूना यहां आकर पूछता है कि आपने लोगों के लिए क्या किया?
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि यूपी के मुख्यमंत्री द्वारा विधानसभा के पटल पर राज्यसभा के एक सांसद के प्रति अपमानजनक शब्द का प्रयोग करना सांसद और संसद की घोर अवमानना है. संसद स्वतः संज्ञान लेते हुए तत्काल निर्णायक कार्रवाई करे.
आप नेता संजय सिंह ने समर्थन के लिए अखिलेश यादव का आभार जताया. उन्होंने कहा कि जो मुख्यमंत्री महोदय अपनी जनता से भेदभाव करते हैं, एफआईआर और डंडे के दम पर सरकार चलाना चाहते हैं, उनसे संसदीय परंपराओं और संसदीय मर्यादाओं के प्रति सम्मान की उम्मीद रखना निरर्थक है. समर्थन के लिए आपका बहुत आभार.
वहीं संजय सिंह ने जवाब देते हुए ट्वीट में लिखा कि अगर यूपी में ब्राह्मणों, दलितों, पिछड़ों, वंचितों पर हो रहे अत्याचार का मुद्दा उठाना नामूनापन है तो आप मुझे नमूना कह सकते हैं. लेकिन मुद्दों से भटकाने के बजाय मेरे सवालो का जवाब दीजिए योगी जी.
ओम प्रकाश राजभर ने की आलोचना 
सुहेलदेव समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और योगी सरकार के पूर्व मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने भी सीएम योगी के बयान की आलोचना की. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में पिछड़े दलित, अल्पसंख्यक, एवं समाज के उपेक्षित वर्गों को समानता के अधिकार की बात करना, उप्र के मुख्यमंत्री को अच्छा नहीं लगता है, इसीलिए विधानसभा के पटल पर संसद की गरिमा को तार तार करते हुए राज्यसभा सांसद संजय सिंह के प्रति अपमानजनक शब्द का प्रयोग किए हैं. घोर निंदनीय. संजय सिंह ने राजभर का भी आभार जताया है.
The post सीएम के नमूना कहने पर संजय सिंह के समर्थन में आए अखिलेश यादव, संसद से की ये अपील appeared first on AKHBAAR TIMES.