चमोली में ग्लेशियर टूटने से भारी तबाही, आइटीवीपी को 10 शव मिले

Share and Spread the love

उत्तराखंड के चमोली जिले में ग्लेशियर टूटने से भारी तबाही की आशंका है. जिसके चलते अलकनंदा और धौली गंगा उफान पर हैं. पानी के तेज बहाव में कई घरों के बहने की आशंका है. आसपास के इलाकों को खाली कराया जा रहा है. चमोली पहुंचे राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत वापस देहरादून लौट आए. उन्होंने कहा कि मैं जल्द ही प्रेस के साथ मीटिंग करूंगा और स्थिति पर सभी को अपडेट करूंगा.
मौसम विभाग की ओर से जानकारी दी गयी है कि उत्तराखंड के प्रभावित इलाकों में सात-आठ फरवरी को प्रतिकूल मौसम की कोई संभावना नहीं है. तपोवन में एक टनल से आईटीवीपी ने 16 लोगों को सुरक्षित बचाया है. लोगों से सुरक्षित इलाकों में पहुँचने की अपील की जा रही है. आपदा में कम से कम 150 लोगों के मारे जाने की आशंका जताई जा रही है.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि राहत एवं बचाव का कार्य चल रहा है. लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है. मेडिकल सुविधाओं में कमी न हो, इसपर जोर दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि मां गंगा का उद्गम स्थल उत्तराखंड इस समय आपदा का सामना कर रहा है. ग्लेशियर टूटने से वहां नदी का जलस्तर बढ़ गया है. मैं उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, भारत सरकार के गृह मंत्री से लगातार संपर्क में हूं.
The post चमोली में ग्लेशियर टूटने से भारी तबाही, आइटीवीपी को 10 शव मिले appeared first on AKHBAAR TIMES.