महाराष्ट्र: उद्धव ठाकरे की कुर्सी से संकट टल गया, चुने गए निर्विरोध

Share and Spread the love

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की कुर्सी पर से संवैधानिक संकट टल गया है. उद्धव ठाकरे और अन्य आठ लोग राज्य विधान परिषद के लिए निर्विरोध चुने गए हैं. महाराष्ट्र की नौ विधान परिषद सीटों के लिए 14 प्रत्याशियों ने नामांकन दाखिल किया था. मंगलवार को नामांकन पत्रों की जांच के दौरान निर्दलीय उम्मीदवार शाहबाज राठौर का नामांकन रद्द हो गया था.
इसके अलावा चार उम्मीदवारों ने मंगलवार को ही अपने नाम वापस ले लिए थे. इस प्रकार नौ सीटों के लिए सिर्फ नौ उम्मीदवार ही बचे थे. जिसकी वजह से सभी निर्विरोध चुन लिए गए.
उद्धव ठाकरे के अलावा विधान परिषद की उपसभापति नीलम गोरे(शिवसेना), रणजीत सिंह मोहिते पाटिल, गोपीचंद पाडलकर, प्रवीण दटके और रमेश कराड(सभी भाजपा) को भी निर्वाचित घोषित किया गया. रांकपा के शशिकांत शिंदे और अमोल मितकारी व कांग्रेस के राजेश राठौड़ शामिल हैं. ये सभी उम्मीदवार विधान परिषद की उन नौ सीटों के लिए चुनावी मैदान में थे जो 24 अप्रैल को खाली हुई थीं.
एक अधिकारी ने बताया कि वे सभी निर्विरोध चुने गए हैं. उन्होंने बताया कि नामांकन वापस लेने की समय सीमा दोपहर तीन बजे समाप्त हो जाने के बाद परिणाम अधिकारिक रूप से घोषित किए गए. इस चुनाव में 59 वर्षीय उद्धव ठाकरे पहली बार विधायक बने हैं. वह शिवसेना के अध्यक्ष भी हैं.
The post महाराष्ट्र: उद्धव ठाकरे की कुर्सी से संकट टल गया, चुने गए निर्विरोध appeared first on AKHBAAR TIMES.