बिहार लौटे मजदूरों को तुरंत काम दे सरकार तभी आएगी खुशहालीः रालोसपा महासचिव माधव आनंद

Share and Spread the love

कोरोना वायरस और लॉकडाउन के चलते देशभर से मजदूरों का पलायन जारी है. अलग-अलग राज्यों से पलायन करने वालों में बिहार, झारखंड और उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों के लोगों की संख्या काफी अधिक है. पलायन के बाद अब इन राज्यों की सरकारों पर इन्हें रोजगार उपलब्ध कराने का दबाव बनने लगा है.
बिहार की राजनैतिक पार्टी रालोसपा के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव माधव आनंद ने कहा कि दूसरे राज्यों में फंसे बिहार के मजदूरों की धीरे-धीरे वापसी हो रही है. अब सरकार की जिम्मेदारी है कि उनके लिए यहीं पर रोजगार का प्रबंध करे.
उन्होंने कहा कि बिहार की सरकार पर हमेशा से ये दाग लगता रहा है कि वो बिहार में लोगों को रोजगार उपलब्ध नहीं करवा पाती है जिसकी वजह से अधिकतर लोग दूसरे राज्यों में पलायान कर जाते हैं.
Image credit- social mediaमाधव आनंद ने कहा कि अब सरकार के पास मौका है कि वो सरकारी और निजी परियोजनाओं को गति प्रदान कर रोजगार मुहैया कराए. रालोसपा महासचिव ने कहा कि केंद्र सरकार की तर्ज पर बिहार सरकार को भी लगभग 100 करोड़ के कामों का टेंडर कराने की बजाए नॉमिनेशन कराकर पारदर्शिता के साथ रोजगार के अवसर प्रदान करे.
उन्होंने कहा कि टेंडर प्रक्रिया में काफी समय लगता है, लॉकडाउन के समय कागजी कार्रवाई पूरी करने में समय बर्बाद करने की बजाए छोटी-छोटी परियोजनाओं में पारदर्शिता के साथ लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया जाए इसी में बिहार की तरक्की संभव है.
The post बिहार लौटे मजदूरों को तुरंत काम दे सरकार तभी आएगी खुशहालीः रालोसपा महासचिव माधव आनंद appeared first on AKHBAAR TIMES.