कोरोना: राहुल गांधी से पूछा- अगर आप प्रधानमंत्री होते तो क्या करते? दिया ये जवाब

Share and Spread the love

देश कोरोना वायरस महामारी से जूझ रहा है. मार्च महीने के अंतिम सप्ताह से देशभर में लॉकडाउन है. ऐसे में आर्थिक स्थिति काफी ख़राब हुई. सरकार द्वारा 20 लाख करोड़ रूपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा की गयी है. इस बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए मीडिया से बातचीत की. उन्होंने आर्थिक पैकेज पर सवाल उठाए.
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि जब बच्चा रोता है तो मां उसे कर्ज नहीं देती, ट्रीट देती है. सड़क पर चलने वाले प्रवासी मजदूरों को कर्ज नहीं पैसे की जरूरत है. इसलिए सरकार को साहूकार की तरह काम नहीं करना चाहिए.
इस दौरान एक मीडियाकर्मी ने राहुल गांधी से सवाल किया कि अगर आप प्रधानमंत्री होते तो क्या करते? इस पर राहुल गांधी ने मुस्कुराते हुए जवाब दिया. उन्होंने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नहीं हूं. इसलिए एक काल्पनिक स्थिति को लेकर मैं बात नहीं कर सकता.
आगे उन्होंने कहा कि लेकिन एक विपक्ष के नेता के तौर पर कहूंगा कि कोई भी आदमी घर छोड़कर दूसरे राज्यों में काम की तलाश में जाता है. इसलिए सरकार को रोजगार के मुद्दे अपर एक राष्ट्रीय रणनीति बनानी चाहिए.
राहुल गांधी ने कहा कि मेरे हिसाब से सरकार को तीन टर्म शोर्ट, मिड और लॉन्ग में काम करना चाहिए. शोर्ट टर्म में डिमांड बढ़ाइए. इसके तरह आप हिंदुस्तान के छोटे और मझोले व्यपारियों को बचाइये. इन्हें रोजगार दीजिए. आर्थिक मदद कीजिए. स्वास्थ्य के हिसाब से आप उन लोगों का ख्याल रखिए जिन्हें सबसे ज्यादा खतरा है.
मिड टर्म में राहुल गांधी ने छोटे और मझोले व्यापारियों को मदद करने के लिए कहा. उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान को 40 प्रतिशत रोजगार इन्ही लोगों से मिलता है, इसलिए इनकी आर्थिक मदद भी करनी चाहिए. बिहार जैसे प्रदेशों में ही रोजगार बढ़ाने पर ही ध्यान दीजिए.
The post कोरोना: राहुल गांधी से पूछा- अगर आप प्रधानमंत्री होते तो क्या करते? दिया ये जवाब appeared first on AKHBAAR TIMES.