इस बेरहम सरकार में कोई सुनने वाला नहीं, सब अपनी मनमानी पर उतारूः अखिलेश यादव

Share and Spread the love

समाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक बार फिर प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इस बेरहम सरकार में कोई गरीबों की सुनने वाला नहीं है, पुलिस-प्रशासन सब अपनी मनमानी पर उतारू हैं.
अखिलेश यादव ने कहा कि आपदा के समय अपने भाग्य पर छोड़ दिए गए मजदूर अपने परिवार की महिलाओं और मासूम बच्चों के साथ जिन दर्दनाक हालत से गुजर रहे हैं वह सबूत है भाजपा सरकार के मानवता विरोधी रवैये का. हजारों मील चलने से श्रमिकों के पैरों में छाले पड़ गए हैं, भोजन के भी लाले हैं. मासूम बच्चें धूप और भूख में तड़प रहे हैं. दम तोड़ते इंसानों के प्रति उत्तर प्रदेश की पुलिस और प्रशासन की इंसानियत भी समाप्त चुकी है.

उन्होंने कहा कि ट्रकों में लाचार मजदूर ठसाठस भरें है, मुख्यमंत्री जी के निर्देश पर कि कोई ट्रकों पर नहीं चलेगा से पुलिस को अन्याय करने का, ठोकने का परमिट मिला हुआ है. सरकार ट्रकों को बंद कर रही है तो सरकार ने दस हजार से ज्यादा रोडवेज बसों द्वारा सुरिक्षत और सम्मान जनक तरीके से मजदूरों को गंतव्य स्थानों तक पहुंचाने में देरी क्यों की है.
अखिलेश यादव ने झांसी, उन्नाव, औरैया, कानपुर और बरेली की घटनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि विपक्ष के तौर पर जब समाजवादी पार्टी आवाज उठाती है तो मुख्यमंत्री नकारात्मक रवैया दिखाकर अपनी मनमानी पर उतारू हो जाते हैं. उन्हें लोकतंत्र में सुझाव सुनना भी गंवारा नहीं.

उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी ने शुरू से ही अपनी विपक्षी जिम्मेदारी निभाते हुए तमाम समस्याओं के समाधान के सुझाव दिए लेकिन सरकार अपनी प्रशासनिक जड़ता से उबर नहीं पायी है. लॉकडाउन के 54 दिन के बाद भी हालात दिन-ब-दिन बिगड़ते जा रहे है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि मुख्यमंत्री जी की टीम इलेवन के नियंत्रण के बाहर अराजकता व्याप्त है और सरकार चैन की बंसी बजाने में व्यस्त है.
The post इस बेरहम सरकार में कोई सुनने वाला नहीं, सब अपनी मनमानी पर उतारूः अखिलेश यादव appeared first on AKHBAAR TIMES.