बेबसी, लाचारी का आलम..महिला ने कहा दो महीने हो गए बच्चा खाना नहीं खा रहा है, बार्डर पर पुलिस ने रोका..

Share and Spread the love

image credit-social mediaलाकडाउन के बीच सड़कों पर प्रवासी मजदूरों का अपने आशियाने की तरफ पैदल ही जाना जारी है. इस समय प्रवासी मजदूरों की जो तस्वीरें सामने आ रही है वो काफी मार्मिक हैं. इन तस्वीरों को देखकर हर कोई यही कह रहा है कि आखिर क्या हो गया है सिस्टम को, जो इतनी कड़क धूप में भी लोग पैदल ही अपने आशियाने की ओर बढ़ रहे हैं.
कोरोना वायरस के चलते हुए लाकडाउन के बीच ठप पड़े प्रवासी मजदूरों के आगे खाने पीने का संकट खड़ी हो गया है. जिसके बाद प्रवासी मजदूरों ने अपने घर जाने का फैसला किया. तपती धूप, रास्ते में खाने पीने की दिक्कतों के साथ-साथ प्रशासन का पहरा भी इन लोगों के लिए चुनौती बना हुआ है.

न्यूज एजेंसी एनएनआई ने एक वीडियो साझा किया है जिसमें एक महिला रोते हुए गुहार लगा रही है कि हमें पैदल ही जाने दिया जाए बस हमें रोका ना जाए. महिला वीडियो में कहती हुई नजर आ रकही है कि हम किसी भी तरीके से घर पहुंच जाएंगे. जब कोई व्यवस्था नहीं की गई तो हम लोग पैदल ही निकल पडे. हमारा ढाई साल का बच्चा है रोज कहता है कि मम्मी घर आ जाओ, मेरा बच्चा खाना नहीं खा रहा है. मैं उसके बिना कैसे रहूंगी.
गौरतलब है कि देश में पिछले 24 घंटे में ही 103 कोरोना पीड़ितों की मौत हो चुकी है. इसी के साथ अब तक भारत में इस बीमारी से जान गंवाने का आंकड़ा 2749 का आंकड़ा पार कर चुका है.
 
The post बेबसी, लाचारी का आलम..महिला ने कहा दो महीने हो गए बच्चा खाना नहीं खा रहा है, बार्डर पर पुलिस ने रोका.. appeared first on AKHBAAR TIMES.