नेपाल के प्रधानमंत्री बोले, चीन से ज्यादा खरतनाक है भारत का वायरस

Share and Spread the love

भारत का पड़ोसी देश नेपाल इन दिनों लगातार भारत के खिलाफ बयानबाजी कर रहा है. इसके अलावा उसने भारत के कुछ हिस्से पर अपना दावा ठोंकते हुए उसे नेपाल का हिस्सा बता डाला है. इतना ही नहीं एक बार फिर नेपाली पीएम ने कोरोना वायरस के लिए भारत को जिम्मेदार ठहरा दिया है.
नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने भारत के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देते हुए कहा कि अपने देश में कोरोना वायरस के प्रसार के लिए भारत को दोषी ठहराते हुए कहा कि चीनी और इतावली की तुलना में भारत का वायरस अधिक घातक लगता है.
नेपाली पीएम ने कहा कि जो लोग गैर कानूनी तरीकों से भारत से आ रहे हैं वो कोरोना का संक्रमण फैला रहे हैं. इसके लिए वो स्थानीय लोग भी जिम्मेदार हैं जो बिना किसी जांच के भारत से लोगों को लेकर आ रहे हैं.

इससे पहले नेपाली प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने भारत के कालापानी सहित कुछ क्षेत्रों पर दावा करते हुए पूछा कि सत्यमेव जयते या सिंहमेव जयते. नेपाल के पीएम ने कालापानी, लिम्पियाधुरा और लिपुलेख क्षेत्र पर अपना दावा करते हुए नया नक्शा भी जारी कर दिया.
संसद में उन्होंने भारत पर तंज कसते हुए कहा कि भारत के राष्ट्रीय चिन्ह में सत्यमेव जयते लिखा है या सिंहमेव जयते. उनके कहने का अर्थ ये है कि भारत सत्य की जीत चाहता है या शक्ति की. केपी शर्मा ओली ने कहा कि नेपाल सिर्फ अपनी जमीन पर दावा कर रहा है. ये मुद्दा उसने किसी तीसरे पक्ष के दबाव में आकर नहीं उठाया है.
The post नेपाल के प्रधानमंत्री बोले, चीन से ज्यादा खरतनाक है भारत का वायरस appeared first on AKHBAAR TIMES.