बिहार सरकार की कृषि अनुदान योजना पर कांग्रेस ने उठाए सवाल, पूछा इन प्रखंडों को क्यों छोड़ा

Share and Spread the love

बिहार युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ललन कुमार ने नितीश सरकार पर आरोप लगाते कहा कि साजिश के तहत भागलपुर जिले के शाहगंज और सुल्तानगंज प्रखंड को शामिल नहीं किया गया है. उन्होंने सरकार से पूछा कि जब भागलपुर के पिरपैंती, कहलगांव, गोपालपुर, नवगछिया, खरीक, रंगरा चौक, इस्माइलपुर, नारायाणपुर, बिहपुर, सबौर आदि प्रखंडों को शामिल कर लिया है तो फिर इन दो प्रखंडों को शामिल क्यों नहीं किया.
ललन कुमार ने कहा कि सरकार जानबूझ कर कुछ क्षेत्रों को इस योजना का लाभ नहीं लेने देना चाहती. उन्होंने कहा कि सरकार का गरीब विरोधी चेहरा सबके सामने आ चुका है. सरकार साजिश के तहत लोगों को परेशान कर रही है. किसान बर्बाद हो गया है मगर सरकार को उसकी कोई फिक्र नहीं है. जनता इसका जवाब आने वाले चुनाव में देगी.

बता दें कि बिहार सरकार ने किसानों को राहत देने के लिए कृषि इनपुट अनुदान योजना की शुरूआत की है. इस योजना के अंतर्गत बिहार सरकार उन किसानों को सहायता राशि प्रदान करेगी जिनकी फसल असमय ओलावृष्टि और वर्षा से बर्बाद हो गई है.
इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा. इस योजना के लिए बिहार के 19 जिलों को शामिल किया गया है. इसमें प्रति हेक्टेयर न्यूनतम 1000 रूपये का अनुदान दिया जाएगा.
The post बिहार सरकार की कृषि अनुदान योजना पर कांग्रेस ने उठाए सवाल, पूछा इन प्रखंडों को क्यों छोड़ा appeared first on AKHBAAR TIMES.