बसों को लेकर बढ़ा सियासी पारा, रिहा होते ही फिर गिरफ्तार हुए लल्लू, 14 दिन के लिए भेजे गए जेल

Share and Spread the love

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को बुधवार को जमानत मिलने के बाद राहत नहीं मिली. उन्हें बुधवार को लखनऊ पुलिस ने अदालत परिसर के बाहर फिर गिरफ्तार कर लिया. अदालत ने अजय कुमार लल्लू को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. इससे पहले दीवानी अदालत ने अजय कुमार, उपाध्यक्ष प्रदीप माथुर, पूर्व एमएलसी विवेक बंसल को 20-20 हजार के निजी मुचलकों पर जमानत दी थी.
उनपर मंगलवार को पुलिस ने लॉकडाउन उल्लंघन और महामारी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया था. मंगलवार को पुलिस ने अजय कुमार लल्लू और उनके साथी नेताओं को राजस्थान बॉर्डर पर शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया. जिसके बाद उन्हें आगरा में पुलिस लाइन में रखा गया था.
लखनऊ से आई पुलिस फ़ोर्स ने दीवानी कचहरी से निकलते ही कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष को फिर गिफ्तार कर लिया. उनकी यह गिरफ्तारी लखनऊ में बस नंबरों की फर्जी सूची मामले में दर्ज मामले में हुई.
पुलिस आयुक्त सुजीत पाण्डेय के मुताबिक कांग्रेस की ओर से राज्य सरकार को 1079 बसों की सूची उपलब्ध कराई गयी थी. जिसकी जांच संभागीय परिवहन अधिकारी, लखनऊ से कराई गयी थी. सूची में 879 बसें निकलीं. 31 ऑटो और थ्री-व्हीलर और 69 एम्बुलेंस, स्कूल बस, डीसीएम, मैजिक और अन्य वाहन मिले. उन्होंने कहा कि एक ही नंबर का वाहन दो अलग-अलग सूचियों में दर्ज मिले.
वहीँ जब लखनऊ पुलिस ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार को गाड़ी में बैठाया तो वहां मौजूद कांग्रेसियों ने हंगामा शुरू कर दिया. कार्यकर्ता गाड़ी के आगे ले गए. बाद में पुलिस ने उन्हें किसी तरह हटाया.
The post बसों को लेकर बढ़ा सियासी पारा, रिहा होते ही फिर गिरफ्तार हुए लल्लू, 14 दिन के लिए भेजे गए जेल appeared first on AKHBAAR TIMES.