प्रियंका गांधी के खिलाफ बोलना कांग्रेस विधायक को पड़ा महंगा, पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता

Share and Spread the love

यूपी के रायबरेली से कांग्रेस क विधायक अदिति सिंह ने बसों के मुद्दे पर भाजपा की लाइन लेते हुए बुधवार को पार्टी पर ही निशाना साधा. उन्होंने प्रियंका गांधी की आलोचना करते हुए कहा कि कोरोना संकट के समय भी निन्न स्तर की राजनीति की क्या आवश्यकता थी. कांग्रेस ने इस बात को गंभीरता से लेते हुए विधायक अदिति सिंह को पार्टी की महिला विंग के महासचिव पद से निलंबित कर दिया है.
इसके साथ ही उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरु कर दी है. वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अदिति सिंह रायबरेली संसदीय सीट से भाजपा से चुनाव लड़ती हुई दिखाई दे सकती है.
कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने अपनी ही पार्टी पर सवाल उठाते हुए कहा कि ऐसे समय निम्न स्तर की राजनीति की क्या आवश्यकता थी? 1000 बसों की सूची दी, उनमें से आधी नकली या कबाड़ थी. यह क्रूर मजाक क्यों? यदि आपके पास बसें थी तो आपने उन्हें राजस्थान, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र क्यों नहीं भेजा.
IMAGE CRDIT-SOCIAL MEDIAकांग्रेस विधायक ने आगे बढ़ते हुए कहा कि कोटा में जब हजारों बच्चे फंस गए तब राजस्थान सरकार उन्हें सीमाओं तक नहीं छोड़ पाई. इस संकट की घड़ी में यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने उन बच्चों को वापस लाने में जो रुचि दिखाई इसकी राजस्थान सीएम ने भी तारीफ की थी.
अदिति सिंह के इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस सचिव और रायबरेली प्रभारी के एल शर्मा ने कहा कि पिछले साल ही पार्टी व्हिप का उल्लंघन करने के लिए विधानसभा में उनके खिलाफ एक नोटिस भेजा गया था जो अभी तक लंबित हैं. कहा कि वो जवाब देने से बच रही हैं. और अध्यक्ष भी कार्रवाई नहीं कर रहे हैं. कहा कि पार्टी ने उन्हें विधायक पद से अयोग्य घोषित करने का भी अनुरोध किया है.
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार भाजपा रायबरेली संसदीय सीट के लिए अदिति सिंह को चुनाव लड़ाने का विचार कर रही है, ये कांग्रेस का गढ़ रहा है.
The post प्रियंका गांधी के खिलाफ बोलना कांग्रेस विधायक को पड़ा महंगा, पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता appeared first on AKHBAAR TIMES.