मजदूर दिवस पर बोले पप्पू यादव, कहा आज हम शर्मिंदा हैं, संकल्प लें ऐसी हुकूमत को उखाड़ फेंकेंगे

Share and Spread the love

आज मजदूर दिवस है. ये दिन मजदूरों के अधिकारों की आवाज उठाने के लिए होता है. इस सदी में शायद ये सबसे बुरे वक्त में पड़ा मजदूर दिवस है. देशभर के मजदूरों के लिए शायद इससे बुरा दिन क्या होगा कि न तो उनके हाथ में काम है और न ही खाने के लिए दो वक्त की रोटी.
स्थिती ये है कि देश के तमाम बड़े शहरों से मजदूर पलायन करके वापस अपने गांव-घर जा रहा है. कोई पैदल तो कोई साइकिल या रिक्शा से सैकड़ो किलोमीटर का सफर तय कर रहा है.
बिहार में प्रवासी मजदूरों का वापस लाने के मुद्दे को लेकर सियासत तेज हो गई है. बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के बयान के बाद जन अधिकार पार्टी के मुखिया पप्पू यादव ने मजदूरों को लाने के लिए अपनी ओर से 30 बसें लगवाने का एलान किया. राजद नेता तेजस्वी यादव ने भी 2000 बसें देने की पेशकश की.
आज मजदूर दिवस के मौके पर पप्पू यादव ने केंद्र और बिहार सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा है कि आज हम बहुत शर्मिंदा हैं. अपने ट्वीट में पप्पू यादव ने लिखा कि हे मेहनतकश मज़दूर भाई बहनों, आज मज़दूर दिवस पर हम शर्मिंदा हैं!
देश और बिहार की अहसान फरामोश सरकारों ने जो आपके साथ सलूक किया है उससे मेरा सिर झुक गया है.उन्होंने कहा कि आपके परिश्रम पर ऐश करने वाले हुक्मरानों को कोई हक नहीं है वह आपको शुभकामनाएं दें. आज संकल्प लें ऐसी हुकूमत को उखाड़ फेंकेंगे.
इससे पहले उन्होंने कहा था कि जनता के लिए जिद और जज्बा चाहिए. संसाधन नहीं, सेंस चाहिए. यहां तो सब सेंसलेस ही है. बिहार का मुख्यमंत्री चाह ले तो स्वर्ग में सीढ़ी भले न लगा सके, लेकिन स्वर्ग को सरजमीं पर उतार तो सकता ही है. इनकी सिर्फ सत्ता सुख भोगने की आदत है, सेवा की चाहत कहां है.

हे मेहनतकश मज़दूर भाई-बहनों
आज मज़दूर दिवस पर हम शर्मिंदा हैं!देश और बिहार की अहसान फरामोश सरकारों ने जो आपके साथ सलूक किया है उससे मेरा सिर झुक गया है।
आपके परिश्रम पर ऐश करने वाले हुक्मरानों को कोई हक नहीं है वह आपको शुभकामनाएं दें।आज संकल्प लें ऐसी हुकूमत को उखाड़ फेंकेंगे।
— Sewak Pappu Yadav (@pappuyadavjapl) May 1, 2020

The post मजदूर दिवस पर बोले पप्पू यादव, कहा आज हम शर्मिंदा हैं, संकल्प लें ऐसी हुकूमत को उखाड़ फेंकेंगे appeared first on AKHBAAR TIMES.